गैस का चूल्हा जलाने पर सिलेंडर आग क्यों नहीं पकड़ता ?

जब हम गैस चूल्हों को जलाते है तो चूल्हे के बर्नरो में गैस इसलिए जल जाती है क्योकि जलने से पहले गैस हवा में मिल जाती है | और यदि गैस हवा के साथ तरीके के साथ नहीं मिल पाती है तो गैस का चूल्हा नहीं जल सकता |

गैस सिलेंडर में गैस निकलने की जगह और चूल्हे में गैस पहुचाने वाले पाइप का गैस रास्ता बहुत छोटा होता है | और सिलेंडर में एक रेगुलेटर भी लगा होता है | रेगुलेटर में से गैस निकलकर पाइप के द्वारा चूल्हे की और जाती है, लेकिन हवा सिलेंडर में नहीं जा सकती | गैस जलने के लिए हमें अणुओं का तापक्रम बढ़ाना जरुरी है, जिसे हम माचिस या लाईटर को जलाकर बढ़ाते है | गैस सिलेंडर पूरी तरह से सुरक्षित करके ही काम में लाया जाता है यह पूरी तरह से सुरक्षित होता है | इसलिए गैस चूल्हा जलाते समय सिलेंडर आग नहीं पकड़ता |

Share this