तेरे जलने से अगर तेरे घर उजाला होता है तो जल

तेरे जलने से अगर तेरे घर उजाला होता है तो जल

तेरे जलने से अगर तेरे घर उजाला होता है तो जल 🔆 तेरे चलने से तेरे घर को गति मिलती है तो चल 🔆 तेरे ठान लेने से तेरे घर ठाठ होता है तो ठान 🔆 तेरे होसले से त्तेरा घोसला बनता है तो होसला कर 🔆 तेरे समय से तेरे घर का समय सही होता है तो समय दे 🔆 तेरे कर्म करने से तेरी कीमत बढती है तो कर्म कर ********************************************************** *चींटी* से…

Share this
Read More