Economics Important Notes Part-4

Economics Important Notes Part-4

Q 30 : बचत फलन या बचत प्रवृत्ति से आप क्या समझते हैं ? Ans : पीटरसन के अनुसार ,” बचत फलन या बचत प्रवृत्ति की परिभाषा एक अनुसूची के रूप में दी जा सकती है जो आय के विभिन्न स्तरों पर बचत की मात्रा को बताते हैं “| बचत प्रवृत्ति दो प्रकार की होती है:- i) औसत बचत प्रवृत्ति : औसत बचत प्रवृत्ति बचत और आय का अनुपात है औसत बचत प्रवृत्ति= बचत/ आय…

Share this
Read More

Economics Important Notes Part-3

Economics Important Notes Part-3

Q 21 : तृतीयक क्षेत्र को समझाते हुए इसके उपक्षेत्रों के नाम लिखो तृतीयक क्षेत्र : क्षेत्रों जिनमें सेवाओं का उत्पादन किया जाता है जैसे बैंकिंग बीमा परिवहन व्यापार आदि उन्हें तृतीयक क्षेत्र कहते हैं | तृतीयक क्षेत्र को सेवा क्षेत्र भी कहते हैं | इसके निम्नलिखित उपक्षेत्र हैं :- बैंकिंग तथा बीमा संचार तथा परिवहन होटल व्यापार तथा जलपान गृह स्थिर संपदा तथा निजी आवास का स्वामित्व प्रतिरक्षा तथा प्रशासन अन्य सेवाएं Q 22…

Share this
Read More

Economics Important Notes Part-2

Economics Important Notes Part-2

Q 11 : राष्ट्रीय उत्पाद या राष्ट्रीय आय किसे कहते हैं ? Ans : एके लेखा वर्ष में एक देश की घरेलू सीमा के अंतर्गत उत्पादित सभी अंतिम वस्तुओं और सेवाओं के मूल्य तथा विदेशों से प्राप्त शुद्ध साधन आय के योग को राष्ट्रीय उत्पाद या राष्ट्रीय आय कहते हैं यह एक जैसे सामान्य निवासियों द्वारा एक लेखा वर्ष में अर्जित आय के योग के बराबर होता है | राष्ट्रीय उत्पाद/आय = शुद्ध घरेलू उत्पाद/आय…

Share this
Read More

अर्थशास्त्र Economics Very Important Notes

अर्थशास्त्र Economics Very Important Notes

अर्थशास्त्र Economics 100 Very Important Notes ध्यान दे : सम्पूर्ण  भारत वर्ष में अर्थशास्त्र Economics का सिलेबस लगभग एक जैसा ही है इसीलिए यह नोटस सभी बोर्ड के विद्यार्थियों के बहुत ही उपयोगी है | हमारे अध्यापको ने बहुत मेहनत से यह तैयार किये है | आप सभी मन लगा कर पढ़े और सफलता प्राप्त करे | Q. 1 विदेशों से अर्जित शुद्ध साधन आय से आपका क्या तात्पर्य है ? इसके मुख्य घटक बताइए…

Share this
Read More
1 2 3 4 27